Sad Shayari in Hindi


Sad Shayari (शायरी), A beautiful feeling in the form of poetry to make a person deep thinker through few words. It came from bottom of heart.Sad Shayari is most searchable poetry word now days because people are cheated in love.thats way lots of sadness around them and they love to read Sad Shayari etc.  In our sad shayari section we are writing some best sad shayari i hope you like our effort .Touch and feel the unforgettable sentiments of poets from the depth of heart.



Duniya ke sath mai bhi arziyo me tha
Apna ghar jala ke khud tamashiyo me tha..
tumko Kya mila mere dil ko kured kar
Jo Zakham ttha wo ruh ki gehriyo me tha....

दुनिया के साथ मै  भी अर्ज़ियो मे था
अपना घर जला के खुद तमाशियो मे था..
तुमको क्या मिला मेरे दिल को कुरेद कर
जो ज़ख़्म था  वो  रूह की गहराईयो मे था....
❤❤❤❤
Har saas me ek taza chuban dekh raha hu
Phir marhala-e-daro rasan dekh raha hu..
Sab dekhte hai waqt ke rukhsaar ka gaza
Mai waqt ke maathe pe shiqan dekh raha hu..

हर सास मे एक ताज़ा चुभन  देख रहा हू
फिर मरहले -ए-दरो रसन देख रहा हू..
सब देखते है वक़्त के रुखसार का ग़ज़ा
ंमा  वक़्त के माथे पे शिक़न देख रहा हू..
❤❤❤❤
Wo kehke chale itni mulaqat bahut hai
Maine kaha ruk jao abhi raat bahut hai..
Aasu mere tham jaye to phir shok se jana
Aise me kaha jaoge barsaat bahut hai..

वो कह के चले इतनी मुलाक़ात बहुत है
मैने कहा रुक जाओ अभी रात बहुत है..
आसू मेरे थम जाए तो फिर शोक से जाना
ऐसे मे कहा जाओगे बरसात बहुत है..
❤❤❤❤
Aapki aankh bhari bhari hai,raat kis shugal me jugaari hai
Dosti unse ho gayi hai ,jinki har baat karobari hai..

आपकी आँख भारी भारी है,रात किस शुग़ल मे जुगारी है
दोस्ती उनसे हो गयी है ,जिनकी हर बात कारोबारी है..
❤❤❤❤

Iss kadar rutha hai mujse laut kar aaya nahi
Ek arsa ho gaya us shashks ko dekha nahi..
Puchte ho baat kya tum us but-e-magroor ki
Apni kehta hai kisi ki baat wo sunta nahi..

इस कदर रूठा है मुझसे  लौट कर आया नही
एक अरसा हो गया उस शख्श  को देखा नही..
पूछते हो बात क्या तुम उस बुत-ए-मगरूर की
अपनी कहता है किसी की बात वो सुनता नही..
❤❤❤❤
Ay khuda bekhudi ke shauk me kya ho gya hu mai
Paya use to khud se juda ho gaya hu mai..

Jata hu pur-umeed palat ta hu na-murad
Majbur aadmi ki dua ho gaya hu mai..

Latka hua hu apne badan ki saleeb par
Isha tere junoo ki sza ho gaya hu mai..

Jo tujko dekhte the muje dekhne lage
Bas itni baat hai ke tera ho gaya hu mai..

ए  खुदा बेखुदी के शौक मे क्या हो गया  हू मै 
पाया उसे तो खुद से जुदा हो गया हू मै ..

जाता हू पूर-उमीद पलटता हू ना-मुराद
मजबूर आदमी की दुआ हो गया हू मै ..

लटका हुआ हू अपने बदन की सलीब पर
ईशा तेरे जूनू की सजा  हो गया हू मै ..

जो तुझको  देखते थे मुझे  देखने लगे
बस इतनी बात है के तेरा हो गया हू मै ..
❤❤❤❤
Khoon ko rang-e-heena zakham ko gulzaar kaha
Dil se bebas hai ke qatil ko bhi dildaar kaha..

Ab usi aankh me aasu hai hamari khatir
Jisne ham ehle-mohabbat ko khatawar kaha..

Saaf dil aap ko lekin ye zamana to nahi
Sabse haskar na mila kijiye soo bar kaha..

Parsa wo hai jo insaa ka lahu peete hai
Hamne pee aag to sabne hume maikhaar kaha..

खून को रंग-ए-हीना ज़ख़्म को गुलज़ार कहा
दिल से बेबस है के क़ातिल को भी दिलदार कहा..

अब उसी आँख मे आसू है हमारी खातिर
जिसने हम अहले -मोहब्बत को ख़ता वार कहा..

साफ़  दिल आप को लेकिन ये ज़माना तो नही
सबसे हसकर ना मिला कीजिए सौ बार कहा..

परसा वो है जो इन्सा का लहू पीते है
हमने पी आग तो सबने हमे  मैखार कहा..
❤❤❤❤
Waqt ka qafila aata hai gujar jata hai
Aadmi apni hi manzil pe hi thehar jata hai..
Iss bigdi hui kismat pe na hasna ay dost
Kya khabar kab koi insaan sawar jata hai..

वक़्त का क़ाफ़िला आता है गुजर जाता है
आदमी अपनी ही मंज़िल पे ही ठहर जाता है..
इस  बिगड़ी हुई किस्मत पे ना हसना ए  दोस्त
क्या खबर कब कोई इंसान सवर जाता है..
❤❤❤❤


Next Page 


Recent Updates