Gum ki aandhi

Sad Shayari

sad shayari

Aandhiya gum ki chalegi to swar jauga
Mai to dariya hu samundar me utar jauga
Mujko sooli par chadane se kya fayeda
 mere hath kalam cheen lo mar jauga..

आँधियाँ  गम की चलेगी तो सवर जाऊगा  
मै  तो दरिया हू समुंदर मे उतार जाऊगा 
मुझको  सूली पर चढाने  से क्या फायेदा
 मेरे हाथ कलाम चीन लो मार जाऊगा .
❤❤❤❤

Muje maloom hai sangdil tuje kis baat ka dar hai
Ke teri bewafai ka charcha aam kar duga
Na aayega raqeebo ke tassavur me kabhi
Mai apne naam ko kuch is tarh gumnaam kar duga..

मुझे  मालूम है संगदिल तुजे  किस बात का दर है
के तेरी बेवफ़ाई का चर्चा आम कर दूगा 
ना आएगा रक़ीबो के तस्सवुर  मे कभी

मै अपने नाम को कुछ इस तरह गुमनाम कर दूगा 
❤❤❤❤

Uske hotho pe mera naam jab  aaya hoga
Khud ko ruswayi se phir kaise bachaya hoga
Unse yaro se fasana meri barbadi ka
Kya use apna sitam yad na aaya hoga..

उसके होठो  पे मेरा नाम जब  आया होगा
खुद को रुसवाई से फिर कैसे बचाया होगा
उनसे यारो से फसाना मेरी .बर्बादी का 

क्या उसे अपना सितम याद ना आया होगा
❤❤❤❤

Hamko maloom hai kya dasht-e-hinayi dega
Purb boyege to wo fasle judai dega
Aankh neelam ki,badan kanch ka,dil phattar ka
Apne shahkaar ko kon itni safai dega..

हमको मालूम है क्या दश्त-ए-हिनाई देगा
पूर्ब् बोएगे तो वो फ़ासले जुदाई देगा
आँख नीलम की,बदन काँच का,दिल फत्थर  का

अपने शाहकार को कों इतनी सफाई देगा
❤❤❤❤

Dam labo par hai kya ab bhi nhi nahi aaoge
Laash paaoge meri mujko nahi paaoge
Yehi behtar hai mera haal na pucho mujse
Tum mera haal sunoge to tadap jaoge…


दम लबो पर है क्या अब भी नहीं  नही आओगे
लाश पाओगे मेरी मुजको नही पाओगे
यही बेहतर है मेरा हाल ना पूछो मुजसे

तुम मेरा हाल सुनोगे तो तड़प जाओगे…



Previous
Next Post »

Recent Updates