Wajood~ Hindi Shayari

Hindi shayari

hindi shayari

har waqt ki nmi aachi nahi kabhi to muskuraya karo,
 aye mere dil tum yaha na aaya karo...

khafa hai tu log puchte hai sabab mujse,
 thoda to rahem is dil se khaya karo...

tere jane ka kuch gum khaas hai nahi,
 fir bhi tum waqt be-waqt  na yaad aaya karo..

abhi roothe to jaise barso ho gye,
fir milne ka wadaa ab tum na karo...

aur sba ko ab paiyaam aache nahi lagte,
aur ab tum tanha na raha karo.......

na paas aao tum ab,zamana bda satata hai
mere wjood ko thokro se mita ta hai...
❤❤❤❤

हर वक़्त की नमी अच्छी नहीं कभी तो मुस्कुराया करो
ए मेरे दिल तुम यहाँ न आया करो

खफा है तू लोग पूछते है सबब मुझसे
थोड़ा तो रहम  इस दिल पर खाया करो

तेरे जाने का कुछ गम ख़ास नहीं है
फिर भी तुम वक़्त-बे-वक़्त याद ना आया करो

अभी रूठे हो जैसे बरसो  हो गए
फिर मिलने का वादा अब तुम ना करो

और सबा को अब पैयाम अच्छे नहीं लगते
अब तुम तनहा न करो

ना पास आओ के जमना बड़ा सताता है 
मेरे वजूद क ठोकरों से मिटाता है. 

Previous
Next Post »

Recent Updates