Zindgi Sad Shayari-Shayari on Life

zindgi sad shayari,shayari on life
1 of 150


Zindgi Sad Shayari-Shayari on Life

Thoda dubuga magar phir tair aauga
Ay zindgi tu dekh ,mai phir jeet jauga...

थोड़ा डूबूँगा मगर फिर तैर आऊंगा
ऐ जिंदगी तू देख मै फिर जीत जाऊंगा।

Shayari on Life
2 of 150

💓💓💓💓💓

Samunder na sahi par ek nadi to honi chaiye
Tere sahar me jindgi kahi to honi chaiye...

समुन्दर ना सही पर एक नदी तो होनी चाहिए
तेरे शहर में जिंदगी कही तो होनी चाहिए।

zindgi sad shayari,shayari on life
3 of 150

💓💓💓💓💓

Mai jindgi girvi rakh dunga tu keemat to bta muskurane ki..

मै जिन्दगी गिरवी रख दूगा ,तू कीमत तो बता मुस्कराने  की।

zindgi sad shayari,shayari on life
4 of 150
💓💓💓💓💓

Kya bech kar ham kharide" fursat-e-jindgi"
Sab kuch to girvi pda hai jimmedari ke bazar mein..

क्या बेच कर हम ख़रीदे " फुर्सत-ए- जिन्दगी "
सब कुछ तो गिरवी पड़ा है ज़िम्मेदारी  के बाजार में।

zindgi sad shayari,shayari on life
5 of 150

💓💓💓💓💓



जिंदगी में यह हुनर भी आजमाना चाहिए ,
अपनों से हो जंग तो हार जाना चाहिए.

Zindgi mein ye hunar bhi aazmana chaiye,
apno se ho jung to haar jana chaiye..

zindgi sad shayari,shayari on life
6 of 150
💓💓💓💓💓

जिंदगी ने मेरे मर्ज का कुछ ऐसा इलाज बताया ,
 वक्त को दवा कहा और ख्वाहिशों से परहेज़ सुनाया।

Zindgi ne mere marzka kuch aisa ilaaz bataya,
waqt ko dwa kaha aur khawahisho se parhez sunaya...

zindgi sad shayari,shayari on life
7 of 150

💓💓💓💓💓

मुझसे नाराज है तो छोड़ दे तन्हा मुझको ए जिंदगी ,
मेरा रोज-रोज तमाशा ना बनाया कर.

Mujhse naraz hai to chod de tanha mujko e zindgi,
mera roz-roz tamasha na banaya kar...

zindgi sad shayari,shayari on life
8 of 150

💓💓💓💓💓

Ay zindgi kash tu hi rooth jati mujhse
Ye roothe huye log mujse manaye nahi jate...

ऐ  जिन्दगी काश तू ही रूठ जाती मुझसे
ये रूठे हुए लोग मुझसे मनाये नहीं जाते।

zindgi sad shayari,shayari on life
9 of 150

💓💓💓💓💓

Jindgi hai kahi ye pta to chale,Har tarf hai ghutan kuch hawa to chale
Ye andhere abhi maat kha jayege,leke palko pe koi diya to chale..

जिन्दगी है कही ये पता तो चले ,हर तरफ है घुटन कुछ हवा तो चले 
ये अँधेरे अभी मात खा जायेगे ,लेके पलकों पे कोई दिया तो चले। .. 

# Manzar Bhopali

zindgi sad shayari,shayari on life
10 of 150

💓💓💓💓💓

koi tallukh hi na rahe,Jabki sabab bhi baki ho
Kya mai ab bhi jinda hu,Kya tum ab bhi baki ho...

कोई ताल्लुख़ ही ना रहे ,जबकि सबब बाकी हो 
क्या मै अब भी जिन्दा हु ,क्या तुम अब भी बाकी  हो.. 

# John Elia

zindgi sad shayari,shayari on life
11 of 150

💓💓💓💓💓

Jindgi roz koi taza safar maagti hai,
Aur bechari thakan sham ko ghar maagti hai...

Ke tujhse mai kaise milu,kaise nibhau rishta
Dushmani bhi to baharhaal hunar maagti hai..

 जिंदगी रोज़ कोई ताज़ा सफ़र मागती है,
और बेचारी थकान शाम को घर मागती है...

के तुझसे मै  कैसे मिलु ,कैसे निभाऊं  रिश्ता

दुश्मनी भी तो बहरहाल हुनर मागती है..

# Meraj Faizabadi 

zindgi sad shayari,shayari on life
12 of 150

💓💓💓💓💓

Sohrat ki bhook hamko kaha le ke aa gayi,
Ham mohataam huye to kirdaar bech kar..
Wo shaksh soorma hai maagr baap bhi to hai
roti kharid laya hai talwaar bech kar..

 शोहरत की भूख हमको कहा ले के आ गयी 
हम मोहतरम भी हुये  तो किरदार बेच कर। ... 
वो शख़्स सूरमा है मगर बाप भी तो है 
रोटी खरीद लाया है तलवार बेच कर। .. 

# Meraj Faizabadi

zindgi sad shayari,shayari on life
13 of 150

💓💓💓💓💓

Kya sitam hai ke ab teri surat,gaur karne pe yaad aati hai
Kaun iss ghar ki dekh bhal kare,roz ek cheez toot jati  hai...

क्या सितम है के अब तेरी सूरत,गौर करने पे याद आती है 
कौन इस घर की देखभाल करे,रोज़ एक चीज़ टूट जाती है। ... 

# John Elia
zindgi sad shayari,shayari on life
14 of 150
💓💓💓💓💓

Koi Chiraag jalata nah salike se
Maagr Sabhi ko Shiqayat hawa se hoti hai..

 कोई जलाता नहीं चिराग़ सलीक़े  से 
 मगर सभी को शिक़ायत हवा से होती है। . 

zindgi sad shayari,shayari on life
15 of 150
 💓💓💓💓💓

Shaam sooraj ko dhalna sikhati hai,shama parwane ko jalna sikhai hai
Girne wale ko hoti to hai  taqleef,magar thokar hi insaan ko chalna sikhati hai...

शाम सूरज को ढलना सिखाती है ,शमा परवाने को जलना सिखाती है 
गिरने वाले को होती तो है तकलीफ ,मगर ठोकर ही इंसान को चलना सिखाती है। .. 

zindgi sad shayari,shayari on life
16 of 150
 💓💓💓💓💓

Karni hai khuda ye duaa,ki teri mohabbat ke siva bandgi na mile
zindgi me sirf tu mile,ya phir ye zindgi na mile...

करनी है ख़ुदा से ये दुआ , की तेरी मोहब्बत के सिवा बन्दगी ना  मिले 
जिन्दगी में सिर्फ तू मिले ,या फिर ये ज़िन्दगी ना मिले। .. 

zindgi sad shayari,shayari on life
17 of 150
 💓💓💓💓💓

Kuch logo ko lagta hai ,unki chalakiya mujhe samajh nahi aati 
Mai badi khamoshi se dekhta hu,unhe apni nazro se girte huye..

कुछ लोगो को लगता है ,उनकी चालाकियाँ मुझे समज नहीं आती 
मै  बड़ी ख़ामोशी से देखता हूँ ,उन्हें अपनी नज़रो से गिरते हुए। .. 

zindgi sad shayari,shayari on life
18 of 150 



 💓💓💓💓💓

Kuch iss tarh maine zindgi ko asaan kar liya
Kisi se maafi maang li,kisi ko maaf kar diya...

कुछ इस तरह मैंने जिंदगी को आसान कर लिया
किसी से माफ़ी मांग ली ,किसी को माफ़ कर दिया।

zindgi sad shayari,shayari on life
19 of 150
 💓💓💓💓💓

 Abb Mat Kholna Meri jindgi ki kitaab purani kitaabo 
Jo tha woh mai rahaa nahi,jo hoon woh kisi ko pata nahi...

अब मत खोलना मेरी जिंदगी की पुरानी  किताबो को 
जो था वो मै रहा नहीं ,जो हूँ  वो किसी को पता नहीं। .. 

zindgi sad shayari,shayari on life
20 of 150
 
Previous
Next Post »

New Updates