Zindgi ~ Life Shayari

Life Shayari


life shayari


Teri yaad me hua jab se gum,tere gumshuda ka ye haal hai,
Na dur hai,Na kareeb hai,na firaaq hai,na wisal hai…

तेरी याद में हुआ  जब से गम तेरे गुमशुदा का ये हाल है
ना दूर है न करीब है ना फ़िराक है न विसाल  है 
❤❤❤❤
Jindgi ka lamha lamha jindgi barbaad hai
Jis tarf mai jaa raha hu raasta dushwar hai
Kuch nahi hai ik ghironda hai ye meri jindgi
Mai jidhar bhi dekhta hu,ret ki diwaar hai..

जिंदगी का लम्हा लम्हा जिंदगी बर्बाद है 
जिस तरफ मै  जा रहा हु रास्ता दुशवार है 
कुछ नहीं है एक घिरौंदा है ये मेरी जिंदगी 
मै  जिफर भी देखता हू रेत  की दिवार है। .. 


❤❤❤❤
Aye dost jooth aam tha duniya me is kadar
Tuje sach kaha to fasana laga muje
Ab unko kho diya hai maine
Jisko dhoodne me zamana laga muje..

ए दोस्त झूठ  आम था दुनिया में इस कदर 
तूने सच  फ़साना लगा मुझे 
अब उनको खो दिया है मैंने 
जिसको ढूंढ़ने में ज़माना लगा मुझे...  
❤❤❤❤
Koore kagaj ki tarh meri jindgi veeran hai
Fan ki duniya me yaro gum meri pehchaan hai
Khud gum zda hokar khush karta hu logo ko
Sach to ye hai ke dil he dard ki jaan hai..

कोरे कागज़ की तरह मेरी जिंदगी वीरान है 
फन  की दुनिया में यारो गम मेरी पहचान है 
खुद गमज़दा होकर भी खुश करता हू  लोगो को 
सच तो ये है के दिल हे दर्द की जान है... 
❤❤❤❤
Kya jaurat hai ke ehbaab ko samjata hai
Raaz poshida jo mere dil-e-geer me hai
Qatra-e-ishq ne jo dali hai chehre me lakeer
Padhne wala ho to sab isi tehreer me hai…

क्या जरुरत है के एहबाब को समझता  चलू 
राज़ पोशीदा जो मेरे दिल-ऐ -गीर  में है 
क़तरा--ऐ -इश्क़ ने डाली है चेहरे में लकीर 
पढ़ने वाला हो तो सब इसी तहरीर में है। .. 





Previous
Next Post »

Recent Updates